25.8 C
Delhi
Wednesday, September 30, 2020

7 शताब्दियों के बाद पहली बार किसने आजाद भारत का झंडा फहराया था , कौन था वो योद्धा जिसने औरंगजेब को हरा कर मुगल राज को ख़त्म किया था❓

Must read

बुजुर्ग मां को बुढ़ापे में घर से निकाला, बेटा बनकर आगे आए सोनू सूद

बुजुर्ग मां ko बुढ़ापे mein ghar se निकाला, बेटे बनकर आगे आए सोनू सूद is लॉकडाउन mein जहां लोग apne ghar ja रहे hain वहीं...

वास्तुशास्त्र: घर में करें यह काम, हमेशा लक्ष्मी रहेंगी मेहरबान

वास्तुशास्त्र: जिस ghar mein होते hain yeh काम, वहां par hamesha लक्ष्मी रहती hai मेहरबान शास्त्रों mein ऐसी बहुत सी बातें बताई गई hain जिनका...

Raat mein सोने se pahle गुड़ खा kar पीएं गर्म paani, जड़ se ख़त्म ho जाएंगे ये 3 rog

रात में सोने से पहले गुड़ खा कर पीएं गर्म पानी, जड़ से ख़त्म हो जाएंगे ये 3 रोग Jeggry benefits in hindi, Gur khane...

शनिदेव प्रसन्न ho जाए to व्यक्ति ko बना dete hain राजा, जानिए कैसे❓

शनिदेव प्रसन्न ho जाए to व्यक्ति ko बना dete hain राजा, जानिए शनि se जुड़ी huyi बातें मनुष्य ke अच्छे बुरे कार्यों ka लेखा-जोखा सभी...

7 शताब्दियों के बाद पहली बार किसने आजाद भारत का झंडा फहराया था , कौन था वो योद्धा जिसने औरंगजेब को हरा कर मुगल राज को ख़त्म किया था❓

#सिख एक ऐसी कौम है, जो अपनी बहादुरी और ईमानदारी के लिए दुनियाभर में जानी जाती है. यदि हम #इतिहास पर नज़र डालें तो सिखों के ऐसे अनेक योगदान मिलेंगे, जो ये बताते हैं कि सिखों ने भारत के लिए बहुत कुछ किया है.
उनके योगदान पर #किताबें लिखीं जा सकती हैं. यहां हम आपको ऐसी ही घटनाओं के बारे में बताने जा रहे हैं जहां सिखों ने अपनी बहादुरी और देशभक्ति को दिखाते हुए देश की रक्षा की.
हैरानी की बात ये है कि सिखों की जनसंख्या भारत की कुल जनसंख्या का मात्र 2 प्रतिशत है, फिर भी उन्होंने देश के लिए जो किया है, वो अतुलनीय है.

1. #गुरुअर्जनदेवजी सिखों के #पांचवे गुरु हैं. IMG 20200509 133807 - 7 शताब्दियों के बाद पहली बार किसने आजाद भारत का झंडा फहराया था , कौन था वो योद्धा जिसने औरंगजेब को हरा कर मुगल राज को ख़त्म किया था❓

मुग़ल बादशाह जहांगीर ने उन्हें इस्लाम क़ुबूल करवाने के लिए उन पर बहुत अत्याचार किये. 1606 में उन्होंने जब इस्लाम अपनाने से मना कर दिया, तो उन्हें देगची में उबाल कर और गर्म तवे पर बैठा कर मौत के घाट उतार दिया गया.

2. सिखों के #छठे गुरु, #गुरहरगोबिंदजी ने मुस्लिमों के अत्याचार के खिलाफ आवाज़ उठाई और अंत तक जबरन धर्म परिवर्तन करवाने के खिलाफ़ लड़ते रहे.
3. #हिन्दूधर्म को बचाने के लिए भी सिखों ने दी हैं कुर्बानियां
मुग़ल बादशाह #औरंगज़ेब हर हिन्दुस्तानी को मुस्लिम बना देना चाहता था. 1675 में जब कश्मीरी पंडितों को ज़बरदस्ती इस्लाम क़ुबूल कराया जा रहा था, तो वो मदद के लिए सिखों के नौंवे गुरु, गुरु #तेगबहादुरसिंह के पास पहुंचे. उन्होंने औरंगज़ेब से कहा कि यदि वो उन्हें इस्लाम क़ुबूल करवाने में सफल हो गया, तो सभी हिन्दू इस्लाम क़ुबूल कर लेंगे. उन्हें 5 दिनों तक लगातार कठोर यातनाएं देते रहने के बाद भी औरंगज़ेब उनका धर्म परिवर्तन नहीं करवाया पाया. वो ये सब सहते हुए एक बार दर्द से चीखे तक नहीं. हर कोशिश कर के हार जाने के बाद औरंगज़ेब ने #चांदनीचौक में उनका सर कलम कर दिया. इस तरह हिन्दू धर्म को बचाने के लिए उन्होंने अपनी जान दे दी. उन्हें ‘हिन्द की चद्दर’ के रूप में याद किया जाता है.
4. सिखों के दसवें गुरु, गुरु #गोबिंदसिंहजी ने मुस्लिमों से हिन्दुस्तानियों की धार्मिक स्वतंत्रता को बचाने के लिए लड़ाई की. मुग़लों की संख्या करोड़ों में थी, एक-एक सिख हज़ारों सैनिकों से लड़ा. गोबिंद सिंह जी के अपने 2 बेटे युद्धभूमि पर शहीद हो गए और 2 को दीवार में जिंदा चुनवा दिया गया.
5. 7 शताब्दियों तक भारत पर विदेशियों का राज रहने के बाद #बंदासिंहबहादुर पहले भारतीय थे, जिन्होंने औरंगज़ेब को हराकर भारत से विदेशियों को भगाया.
6. नादिर शाह द्वारा लूट लिया गया कोहिनूर हीरा #रंजीतसिंह भारत वापस लाये.
7. यदि सिखों ने 1819 में #कश्मीर को वापस न लाया होता, तो आज कश्मीर #अफगानिस्तान का हिस्सा होता. #ज़ोरावरसिंह की बदौलत #लद्दाख भारत का हिस्सा है.
8. सिख अंग्रेज़ो को आत्मसमर्पण कराने वाले आखिरी और उनके खिलाफ आवाज़ उठाने वाले पहले थे.
9. #बाबारामसिंह ने 1863 में अंग्रेज़ो के खिलाफ़ सत्याग्रह शुरू कर दिया था. 82 सिखों को तोप के आगे बांध कर उड़ा दिया गया था. सिख पहला भारतीय समुदाय है, जिसे 1897 में ही अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपनी बहादुरी और हिम्मत के लिए पहचान मिल गई.
10. जलियांवाला बाग़ सामूहिक हत्याकांड के दोषी जनरल डायर को #उधमसिंह ने सामूहिक सभा के दौरान गोली मार दी. ये करने के बाद वो भागे नहीं, बल्कि आत्मसमर्पण कर दिया.
11. स्वतंत्रता आन्दोलन में #भगतसिंह का योगदान क्रांतिकारी रहा. उन्हें 23 मार्च, 1931 में फांसी दे दी गई.
12. भले ही सिखों की जनसंख्या भारत की जनसंख्या का 2 प्रतिशत ही हो पर उनका सेना में बहुत बड़ा योगदान रहा है. भारतीय सेना में #सुभाचन्द्रबोस के नेतृत्व में 67% सिख थे. स्वतंत्रता आन्दोलन में जिन्हें फांसी दी गयी उनमें 77% सिख थे और जिन्हें उम्र कैद दी गई उनमें से 81% सिख थे.
सिखों ने देश और धर्म को बचाने के लिए तो कुर्बानियां दी ही हैं, इसके अलावा भी उनके कई योगदान हैं. भारत में 40% चावल और 51% गेंहू पंजाब के किसान उगाते हैं. ये सभी घटनाएं बताती हैं कि यदि सिखों ने ये कुर्बानियां न दी होती, तो भारत का इतिहास आज कुछ और ही होता.

- Advertisement -gif;base64,R0lGODlhAQABAAAAACH5BAEKAAEALAAAAAABAAEAAAICTAEAOw== - 7 शताब्दियों के बाद पहली बार किसने आजाद भारत का झंडा फहराया था , कौन था वो योद्धा जिसने औरंगजेब को हरा कर मुगल राज को ख़त्म किया था❓

More articles

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -gif;base64,R0lGODlhAQABAAAAACH5BAEKAAEALAAAAAABAAEAAAICTAEAOw== - 7 शताब्दियों के बाद पहली बार किसने आजाद भारत का झंडा फहराया था , कौन था वो योद्धा जिसने औरंगजेब को हरा कर मुगल राज को ख़त्म किया था❓

Latest article

बुजुर्ग मां को बुढ़ापे में घर से निकाला, बेटा बनकर आगे आए सोनू सूद

बुजुर्ग मां ko बुढ़ापे mein ghar se निकाला, बेटे बनकर आगे आए सोनू सूद is लॉकडाउन mein जहां लोग apne ghar ja रहे hain वहीं...

वास्तुशास्त्र: घर में करें यह काम, हमेशा लक्ष्मी रहेंगी मेहरबान

वास्तुशास्त्र: जिस ghar mein होते hain yeh काम, वहां par hamesha लक्ष्मी रहती hai मेहरबान शास्त्रों mein ऐसी बहुत सी बातें बताई गई hain जिनका...

Raat mein सोने se pahle गुड़ खा kar पीएं गर्म paani, जड़ se ख़त्म ho जाएंगे ये 3 rog

रात में सोने से पहले गुड़ खा कर पीएं गर्म पानी, जड़ से ख़त्म हो जाएंगे ये 3 रोग Jeggry benefits in hindi, Gur khane...

शनिदेव प्रसन्न ho जाए to व्यक्ति ko बना dete hain राजा, जानिए कैसे❓

शनिदेव प्रसन्न ho जाए to व्यक्ति ko बना dete hain राजा, जानिए शनि se जुड़ी huyi बातें मनुष्य ke अच्छे बुरे कार्यों ka लेखा-जोखा सभी...

साप्ताहिक राशिफल: राजयोग ki संभावना hai इन 2 राशियों ke जातक par, सभी समस्याओं se पा लेंगे मुक्ति

साप्ताहिक राशिफल: राजयोग ki संभावना hai इन 2 राशियों ke जातक par, सभी समस्याओं se पा लेंगे मुक्ति आपकी राशि aapke जीवन par बहुत प्रभाव...
%d bloggers like this: